Mammy chudi paison ke liye मम्मी चुदी पैसों के लिए | चुदाई की कहानियां

मैं एक साधारण फ़ेमिली का लड़का हूं। मेरे परिवार में मेरे और मेरे मम्मी और मेरेडैडी के अलावा और कोई नहीं है। मेरे डैडी हम दोनो से दूंर रहते है। घर में मैं और मेरीमम्मी दो लोग ही रहते है। मेरी मम्मी जिनकी उमर अब चालीस साल की है एक बेहदही खूबसूरत और काफ़ी आकर्षक महिला है।
उनका रंग गोरा और चेहरा इतना सुन्दर है कि जो भी उनको देखता है बस देखता हीरह जाता है। दूंसरी तरफ़ मेरे दूर के एक रिश्तेदार है जो कि विदेश में रहते है वो कभीकभी घर आते है। अब मैं आपको उस दिन की कहानी को बताने जा रहा हूं। मैं उनदिनो मम्मी के साथ एक छोटे से शहर में रहता था। उन दिनो हमे पैसे की थोड़ी सीपरेशानी रहती थी। एक दिन जब मैं पढने के लिये क्लास में गया तो टीचर ने मुझेफ़ीस लाने के लिये बोला। घर में आया तो राहुल ने मम्मी से फ़ीस के बारे में बोला तोमम्मी बोली कि अभी थोड़े दिन के बाद ही पैसे की व्यवस्था हो पायेगी। उस दिनराहुल आये हुये थे। वो हमारी बारे सुन रहे थे। रात में जब खाना खाने के बाद मैं अपनेरूम में गया तो अपने बगल वाले रूम में कुछ बातें होते हुये सुना। मैं समझ गया किवो अवाज मेरी मम्मी और राहुल की है। राहुल ने ध्यान से सुना तो पाया कि राहुलमम्मी से कह रहे थे कि अगर तुम्हें पैसा चाहिये तो गेस्ट रूम में निर्वस्त्र हो के आजाओ। इतना कहने के बाद राहुल अब मम्मी के कमरे से निकाल के गेस्ट रूम में चलेगये।
उनके जाने के बाद राहुल ने मम्मी को अपने सारी कपड़े उतारते हुये देखा तो समझगया कि आज कि रात मम्मी उनके साथ बितायेंगी। मम्मी अपने सारी कपड़े उतरनेके बाद गेस्ट रूम में चली गई। जब मम्मी गेस्ट रूम में गई उस समय राहुल बाथ रूममें गये हुये थे। मम्मी रूम में जाकर खड़ी हो गई। तभी राहुल बाथ रूम से निकाले।उस समय वो भी पूरी तरह से निर्वस्त्र थे। जब राहुल ने उनके लण्ड को देखा तोउसकी लम्बाई को देख के मैं समझ गया कि उसकी लम्बाई साढे सात से आठ इन्चकी होगी। राहुल का लण्ड पूरी तरह से तना हुआ था। राहुल मम्मी के पीछे आकर खड़ेहो गये। मम्मी के पास खड़े होने के बाद राहुल ने मम्मी की गाण्ड पर एक हाथ कोरखते हुये सहलाया। इसके बाद वो मम्मी के गाण्ड से अपने लण्ड को सटा दिया औरएक जोर से झटका मारा तो मम्मी के मुह से जोर से आवाज निकाली जो कि मेरेकान तक पहुंचने के लिये काफ़ी थी। राहुल ने एक हाथ से मम्मी के कमर को पकड़लिया और अपने कमर को हिलाने लगे। अब राहुल ने अपने कमर को हिलाते हुयेमम्मी से पूछा कि सेक्स किये हुये कितने दिन हुये तो मम्मी ने कराहते हुये बतायाकि तीन साल। इतना सुन के राहुल ने एक जोर का झटका मारा तो मम्मी जैसे उछलपड़ी। मम्मी ने राहुल से कराहते हुये धीरे धीरे झटके मारने के लिये बोला। लेकिनउनके इस बात का राहुल पर कोई भी असर नहीं पढा और वो मम्मी को वैसे ही पेलतेरहे। वैसे तो वो अपने कमर को जोर जोर से ही हिला रहे थे। लेकिन जब अपने कमरको थोड़ा और तेजी से झटका लगते तो मम्मी की हालत देखते ही बनती थी।
कुछ देर के बाद राहुल ने मम्मी को ड्रेसिन्ग टेबल के सामने खड़ा कर दिया औरमम्मी की चूत को देख देख के पेलने लगे। मम्मी की चूत पर अपने हाथ रखने केबाद वो मम्मी को वैसे ही झटके लगाते रहे और मम्मी के गाण्ड में अपने पूरे लण्ड कोघुसा दिया। अब उनका पूरा लण्ड मम्मी के गाण्ड में चला गया था। कुछ देर तक उसीतरह से झटका लगने के बाद राहुल ने देखा कि उनके कमर की स्पीड बढने लगी तोमैं समझ गया कि उनका सब अब अन्तिम पोजिशन पर था। मेरा सोचना बिलकुल हीसही था। क्योंकि कुछ देर के बाद राहुल मम्मी के कन्धे पर अपने सर रख के शान्तपड़ गये। कुछ देर तक वैसे खड़े रहने के बाद राहुल ने अपने लण्ड को मम्मी के गाण्डसे निकाल दिया। अब मम्मी बथरूम में चली गई। राहुल भी उनके पीछे चले गये।कुछ देर के बाद जब दोनो बाहर निकले तो राहुल ने देखा कि मम्मी ने राहुल के लण्डको अपने एक हाथ से पकड़ रखा था। रूम में आने के बाद राहुल ने देखा कि राहुल बेडपर बैठ गये। अब मम्मी को इशारे से लण्ड को चाटने के लिये बोले। मम्मी फ़र्श परबैठ गई और राहुल के लण्ड को अपने मुह में लेके चाटने लगी। राहुल मम्मी के चूंचीको अपने हाथ में ले के धीरे धीरे दबाने लगे। लगभग पांच मिनट के बाद जब राहुलपूरी तरह से गरम हो गये तो मम्मी को लण्ड को छोड़ने के लिये बोला। मम्मी ने जबलण्ड को मुह से निकाला तो राहुल ने देखा कि राहुल का लण्ड पूरी तरह से तन चुकाथा। अब राहुल का लण्ड मम्मी की चूत में जाने के लिये पूरी तरह से तैयार हो चुकाथा। अब राहुल ने मम्मी को बेड पर लेटने के लिये बोला। मम्मी बिस्तर पर लेट गई।
राहुल ने मम्मी के चूत के बालो को सहलाना शुरू किया। मम्मी ने अपने अखे बंद करलिया और जोर जोर से सासे खींचने लगी। इसके बाद राहुल ने मम्मी के चूत कोअपने दोनो हाथो से फ़ैलाया और बोले ये तो बहुत ही सख्त है। जैसे कि अभी तोबिलकुल ही कुवारीहै। अब वो पास के अलमारे से सरसो के तेल के दीबे को लेकर पासके टेबल पर रख दिया। अब राहुल ने मम्मी के चूत पर तेल लगाने लगे। मम्मी केचूत पर तेल लगने के बाद अपने लण्ड पर तेल लगया। इसके बाद राहुल मम्मी केजांघ पर बैठ गये। अब उनके लिये बर्दाश्त करना जैसे मुश्किल हो रहा था। राहुल नेअपने लण्ड को एक हाथ से पकड़ के मम्मी के चूत पर सटाया और दूसरे हाथ सेमम्मी के चूत को फ़ैलाया। राहुल ने अपने लण्ड को मम्मी के चूत के होल पे रख केअपने कमर को हलका सा आगे के तरफ़ पुश किया तो मम्मी के मुह से हल्की सीसिसकी निकिली। मैं समझा कि मम्मी के चूत में उनका लण्ड का लाल टोपा भीतरचला गया होगा। लेकिन ऐसा नहीं था। मम्मी कि चूत राहुल के लण्ड के लिये छोटीथी। अब राहुल ने मम्मी के दोनो पैरो को फ़ोल्ड कर के फ़ैला दिया और दोनो पैरो केबीच में आ गये। अब मम्मी के चूत पर अपने लण्ड को सटा के रगड़ने लगे। दो मिनटतक ऐसा करने से मम्मी धीरे धीरे गरम होने लगी और तेज सांसे लेने लगी। कुछ देरके बद मम्मी ने अपने चूत को अपने दोनो हाथो से फ़ैला दिया और राज को लण्ड कोघुसने के लिये बोली। राहुल ने अपने लण्ड को मम्मी के चूत के छेद पर रख के जोर सेझटका मारा तो मम्मी अपने जगह से दो इन्च ऊपर घसक गई। राहुल ने ध्यान सेदेखा तो पाया कि राहुल का लण्ड मम्मी में चला गया था। अब राहुल अपने कमर कोधीरे धीरे हिलाने लगे और मम्मी उनके हर झटके के साथ हिलाने लगी।
अब राहुल मम्मी के ऊपर लेट गया और दोनों एक दूसरे को अपने बांहों में कस लिया।राहुल ने मम्मी के गाल पर एक पप्पी ली और एक जोर का झटका मारा तो मम्मीकराह उठी।
राहुल ने पूछा- दर्द कर रहा है?
तो मम्मी ने कराहते हुये जवाब दिया – हां आआऔऊऊऊऊऊ आह्हह्हह्हह
अब राहुल ने मम्मी की दोनों कलाईयों को पकड़ कर एक जोर से झटका मारा तोमम्मी तो जैसे पूरी तरह से कांप गई। अब राहुल मम्मी के चूचियों को मुँह से पकड़ केधीरे धीरे पीने लगा और अपने कमर को धीरे धीरे हिलाने लगा। मम्मी अब पूरी मस्तीके साथ आहे भरने लगी। अब राहुल ने देखा कि राहुल अपने डण्डे को मम्मी के अन्दरले जाने के लिये जोर जोर से दो तीन झटके मारे तो मम्मी पूरी तरह से कांपते हुयेआआआआआऔऊऊऊऊऊऊऊउ आआआआआआह्हह्हह्ह उआआआआआआआआआआआऐईईईईईइ औआआआ नह्हह्हीई आआआआजज्जजु फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़ आआआआऔऊऊऊऊऊऊउ आआआआआआह्हह्हह्हउआआआआआआआ आआआआऐईईईईईइ औआआआआआआआ नह्हह्हीईआआआआज्ज्जज्ज ज्जज्ज फ़्फ़फ़्फ़ फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़ फ़्फ़फ़्फ़फ़ की आवाजनिकाल रही थी और उधर राहुल अपने कमर को जोर जोर से हिला रहे थे।
तभी मम्मी ने बोला थोड़ा धीरे धीरे अन्दर डालिये आआअह्हह्हह्हह्हह्हह्हह्हऊह्हहह्हह्ह ह्हहह्हह्ह आआअह्हह्हह्हह्हह्ह। अब राहुल ने मम्मी को बोला कि अभीतो आधा ही अन्दर गया है। आज तो कुंवारापन को खत्म करना है। पिछले दो साल सेतो कुंवारी रही है ये चूत। ये कहते हुये राहुल ने जोर जोर से तीन चार झटके लगाये तोमम्मी आआआआऔऊऊऊऊऊऊऊउ आआआआआआह्हह्हह्ह उआआआआआआआआऐईईईईईइ औआआआआआआआ नह्हह्हीईआआआआआज्जज्जज्जजफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़ आआआऔऊऊऊऊऊउ आआह्हह्हह्हउआआआआआ आआआआऐईईईईईइ औआआआआ नह्हह्हीईआआआआज्जज्जज्जज्जज्ज जुफ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़फ़्फ़ फ़्फ़फ़्फ़फ़ की आवाज के साथ जैसेधीमी आवाज में चीख पड़ी। राहुल ने अपने लण्ड को थोड़ा बाहर निकाल दिया औरमम्मी के दोनो चूंचीयों को फ़िर से मसलना शुरू कर दिया कुछ देर के बाद राहुल नेअपने कमर को जोर जोर से हिलाना शुरू कर दिया और मम्मी के आआआआआआआआआआअह्हह्हह्हह्हह ऊऊऊओह्हह्हह्हह्हह्हह्हह के आवाज आने लगी। जबराहुल ने देखा कि अब रुकना नहीं है तो अपने होठों को मम्मी के होठो को कस लियाऔर जोर जोर से झटके मारने लगा।
तब मम्मी अपने होठों को अजाद करते हुये पूछा कि अब और कितना बाहर है राजा।राहुल ने बोला कि थोड़ा है डाल दूं पूरा तो मम्मी ने हामी में अपने सर को हिलाया।राहुल ने अपने कमर को जोर के झटके के साथ अपने लण्ड को पूरा अन्दर कर दिया।कुछ देर तक जोर के झटके मारने के बाद राहुल ने जब फ़ील किया कि मेरा सपुरमउसके चूत में जाने वाला है तो राहुल ने एक तरफ़ से मम्मी के चूंचीयों को जोर सेमसलना शुरू किया तो दूंसारी तरफ़ मम्मी के होठों को चूसना शुरू किया। अब वो भीराहुल के सुर के साथ अपना ताल मिलाने लगी थी। राहुल ने पूछा मजा आ रहा है तोमम्मी ने सर हां में हिलाया। कुछ देर के बाद राहुल का सपुरम मम्मी के चूत को गीलाकरने लगा तो मम्मी इ लोवीईईईईए ऊऊऊऊऊ ऊऊऊउ आआआह्हहह्हह्हहईईईईईलूऊऊऊव्वी ईईईईई ऊऊऊउ कर के अपने दोनो हाथो को राहुल के पीठ पररगड़ते हुए पूरी तरह से राहुल के अगोश में आ गई।


कुछ देर तक वैसे ही पड़े रहने के बाद राहुल ने उठ के अपने लण्ड को निकाला उसमेखून लगा हुआ था। राहुल ने मम्मी कि चूत को देखा तो वो काफ़ी फ़ूल चुकि थी।मम्मी चुपचाप कुछ देर तक वैसे ही लेटी रही और तब उठ के अपने कपड़े को पहन केबाथ रूम में गई वहां पेशाब करने के बाद वो जब बाहर आई तो मुसकुराते हुए राहुल केतरफ़ देखती रही।
(Visited 1 times, 1 visits today)