chap chap chut ka bhoot ya ped ka bhoot

दो दोस्त थे रामू और श्यामू , दोनों की नई नई शादी हुई थी , और दोनों पडोसी थे 
एक दिन रामू को किसी काम से बाहर जाना था तो रामु श्यामू से बोला 
रामू – श्यामू देख तू मेरा भाई जैसा है मैं 2 महीने के लिए बाहर जा रहा हु ,तू पीछे से मेरी पत्नी का ध्यान रखना लकिन कोई उलटी हरकत मत करना 
श्यामू – ठीक है भाई 

“फिर रामू काम पर चला गया और श्यामू , रामू के घर गया और रामू की पत्नी से बात करने लगा “
श्यामू – क्या बात है भाभी आज कल मोटी होती जा रही हो । 
रामू की पत्नी – नही ऐसी कोई बात नही है मैं प्रेगनेंट ( पेट से ) हु । 
श्यामू- प्रेगनेंट  हो ये तो अच्छी बात है लकिन एक प्रॉब्लम है । 
रामू की पत्नी  – क्या प्रॉब्लम है ?
श्यामू – जिस प्रकार पेड़ मैं पानी नही डालने पर वो सुख जाता है उसी प्रकार अगर आप की चुदाई नही हुई तो बच्चा भी मर जायेंगा 
रामू की पत्नी – हे भगवान ! तो अब मैं क्या करू । वो तो  2 महीने के लिए बाहर गए है । 
श्यामू – तो मैं किस दिन काम आऊंगा भाभीजी 

“बस फिर क्या था श्यामू ने रामू की पत्नी की दो महीने तक जम के चुदाई की “
“अब रामू काम से लोट आया “

रामू – किसी है डार्लिंग 
रामू की पत्नी- डार्लिंग गई भाड़ मैं , आप की लापरवाही की वजहा से हमारा बच्चा तो मर ही जाता ‘
वो तो भला हो श्यामू का जिस की वजह से ये बच्चा पल रहा है 
रामू – लकिन हुआ क्या है सही से बता 

“रामू की पत्नी ने रामू को सारी बात बता दी । अब रामु सब समझ गया और श्यामू की पत्नी को चोद्ने की कसम खा ली” ।

एक दिन श्यामू , रामू के पास आया और बोला 

श्यामू – मेरे को एक काम से जाना है तू मेरे पत्नी को माई के छोड़ आ ?
रामू – अरे तू तो भाई जैसा है तेरे को कैसे माना कर सकता हु , ठीक है । 

“बस फिर क्या था श्यामू की पत्नी तैयार हो के रामू के साथ चल दी । अब रामू श्यामू की पत्नी को चोदने का प्लान बनाने लग गया “
चलते चलते श्यामू की पत्नी थक गयी और रामू से बोली 

श्यामू की पत्नी – रामू जी मैं थक गयी हु । 
रामू – कोई नही उस पेड़ के नीचे थोड़ी देर सो लेते है
श्यामू की पत्नी थकने के कारण गहरी नींद मैं सो गयी तो रामू ने श्यामू की पत्नी के सारे गहने खोल कर छुपा दिये और सो गया । थोड़ी देर बाद श्यामू की पत्नी जागी और रामू को जगा के बोली 

श्यामू की पत्नी – अरे जागो कोई मेरे गहने खोल के ले गया मेरी माँ मेरे को मार ही डालेगी 
रामू – ओह्ह नोजिस का डर था वो ही हो गया 
श्यामू की पत्नी – क्या हो गया?
रामू – इस पेड़ मैं चप नाम का भूत है वो गहने चोरी कर लेता है 
श्यामू की पत्नी- तो अब क्या करे ?
रामू – हम को चुदाई के माध्यम से चप चप की आवाज बनानी होगी बस ये ही एकमात्र रास्ता है 
श्यामू की पत्नी – कुछ भी करो लकिन मेरे गहने वापस ला दो 

” बस फिर दोनों चुदाई करने लग गए । जैसे  जैसे चोदते वक्त चप चप की आवाज़ हो वैसे वैसे रामु गहने निकाल कर देता जा रहा था बस रामू ने भी श्यामू की पत्नी की जम के चुदाई कर दी “।

 शिक्षा — तो दोस्तों जैसे को तैसा  

(Visited 3 times, 1 visits today)