हप्सी दीदी ने चूत चटवाई। by feel hapsi didi ki chut ka maza

(once upon a time ) एक बार की बात है।  गर्मियों का टाइम था।  मेरी दिनचर्या बहुत ही सिम्पल थी।  सुबह उठना और उठ के स्कूल जाना फिर घर आकर होमवर्क करना खाना पीना और सो जाना। मैं हमेशा स्कूल से आ के होमवर्क कम्प्लीट करता था।  दिन मैं मेरा सारा परिवार सोता है। हमारे पड़ोस वाले घर मैं दो लडकिया है  एक मेरे से बड़ी और दूसरी मेरे से छोटी है। बड़ी वाली लड़की को मैं दीदी बोलता हु और वो कॉलेज गर्ल है। और वो मेरे को बहुत अच्छी भी लगती है।वो दिन मैं मेरे को अपने घर बुला लेती है और हम तीनो मिल के छुपान छुप्पी खेलते है। वो हमेशा मेरे को अपने साथ छुपाती है।

एक दिन दीदी मेरे साथ बाथरूम मैं छुप गयी और गेट बंद कर दिया। फिर अपने दोनों हाथो से मेरी आँखे बंद कर देती थी और धीरे धीरे मेरे कान मैं कुछ बोलती, तब उस की गर्म गर्म सासो से मेरे को कुछ कुछ होने लग जाता है। मेरे को कुछ समझ मैं नही आता की क्या हो रहा है। वो मेरे कान मैं बोलती अपना मुँह खोलो , मेरे को चेक करना है की आज आप ने ब्रश किया है या नही।  फिर मेरा मुँह खोलने के बाद वो मेरे मुँह मैं कुछ गीला गीला डालती थी , बाद मैं पता लगा वो मेरे मुँह मैं अपनी जीभ डालती थी।

कई दिनों तक same program चलता रहा। एक दिन वो थोड़ा आगे बड़ी।  उस  ने मेरे को अपने घर बुलाया और room  मैं बंद कर दिया , और मेरे बगल मैं आ के लेट जाती फिर अपनी ti – shirt ऊपर कर के अपना पेट दिखाते हुए कहती इस पर हाथ फेर मेरे पेट मैं कुछ अजीब सा हो रहा है।  फिर मैं उस के पेट पर हाथ फेरता और बीच बीच मैं उस के बोबो को छू देता और कभी कभी हाथ उस की चूत पर फेर देता और वो मेरा हाथ हटा देती और गर्म गर्म आहे भरती।

daily ऐसा चलता रहा एक दिन वो मेरे को बाथरूम मैं ले गयी और मेरी आखो पर पतला तोलिया बांध दिया और बोली चल check  करने दे की आज तू ने ब्रश किया है की नही। और मेरे को बैठा दिया फिर पता नही मेरे मुह के आगे क्या था।  मेने हाथ लगाया तो वहा गोल गोल बाल थे मेरे को पता नही था की वो क्या चीज है। फिर उस ने मेरा मुह और जोर से दबा दिया मेरे को सॉस लेने मैं problem हुई लेकिन वो मेरे को गन्दी गन्दी गालियाँ देने लग गयी और जबरदस्ती मेरे बालो को पकड़कर मेरा मुह लगवा रही थी।

वो ऐसा व्यवहार कर रही थी जैसे कोई पागल हो।  अब मेरे को डर लगने लग गया की वो daily मेरे को बुलाती मेरे आखो पर तोलिया बांधती और मेरा मुँह टेस्ट करती फिर बाल मेरे मुह मैं डालती। एक दिन मेने तोलिया हटा दिया तो देखा उस का पजामा hanger पर लटका हुआ था और red  color  की bra  थी उसने एक हाथ से अपना एक निप्पल दबा रखा था और दूसरा हाथ मेरे सर पर , मेने उस दिन देखा की वो मेरे को अपनी चूत चटवाती थी। मेरे को अजीब सी feeling  हुई फिर मेने उस की गांड कस के पकड़ ली  बोला आज तो इस चूत को मैं खा ही जाऊँगा। फिर उस ने मेरे मुह मैं मूत दिया। अब सब कुछ clear  हो चूका था।

फिर हम दोनों बेड पर आ गए हम दोनों लेट गए और पुरे कपड़े उतार कर नंगे हो गए।  फिर हम kiss  किया और उस ने मेरा मुह फिर से अपनी चूत पर लगा दिया अब मैं जितना हो सके अपना मुँह उस की चूत मैं डालकर चाट रहा था। फिर उस ने अपना हाथ मेरे पैंट मैं डाला और मेरे लिंग को हिलाने लग गयी मेरे को लगा जैसे मैं जन्नत मैं आ गया हु।  मैं बोल रहा था plzz  और हिलाओ ना आप बहुत अच्छी हो।  उस ने थोड़ी देर तक मेरा लिंग हिलाया और फिर मेरे उपर चढ़ गयी। उस के मोटे मोटे बोबे लटक रहे थे। फिर वो बोली अब मेरे बोबो को अपने मुह मैं जोर से पकड़ ले और छोड़ना मत।  फिर उस ने अपना एक बोबा मेरे मुह मैं डाल दिया और जोर जोर से हिलने लग गयी।  मैं उस के दूसरे बोबे को अपने हाथ से जोर जोर से कस के दबा रहा था।  और वो आह्ह आह्ह्ह की आवाजे निकालकर मजे ले रही थी।

मेरे को बहुत अच्छा लगा फिर उस ने मेरे को एक long  kiss  किया और हम लेट गए।  ये काम हम सप्ताह मैं 2  या 3 बार करते है।  उस कॉलेज वाली दीदी ने मेरे को बहुत एन्जॉय करवाया है। सब दीदी को बड़ा शरीफ समझते है लैकिन मैं जानता हु की वो कितनी बड़ी हप्सी है।  अब उस की शादी हो गयी है और उस की गांड और बोबे और भी मोटे हो गए है।  

(Visited 12 times, 1 visits today)