गुजराती आंटी ने लंड चूस के चुदवाया

मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था की यह गुजराती आंटी मेरा लोडा भी चूसेगी. राजकोट रहने आया तब मकान नहीं मिल रहा था और मुश्किल से इस आंटी ने मकान दिया था. इस गुजराती आंटी के साथ मुझे रहते हुए अब तो २ महीने हो गए थे. पहले पहले तो मुझे सिर्फ शक था की यह आंटी जी मुझे लाइन मारती हैं लेकिन फिर साला पूरा यकीन हो गया. आंटी कितनी बार डाइनिंग टेबल पर मेरी जांघ को टच करने का प्रयास करती थी. मैं भी उसके स्पर्श का पूरा मजा लेता था. और एक दिन उसने सारी हदें तोड़ के मेरे लोडे को छू लिया. मेरा तो उसके छूते ही खड़ा हो गया. आंटी के सामने देखा तो वो तो जैसे कुछ हुआ ही नहीं! मैंने हाथ निचे कर के अपनी जिप खोल दी. आंटी मेरे लोडे को हिला रही थी जैसे की मुठ मार रही हो. इस हॉट गुज्जू आंटी की हवस ५० साल की उम्र में भी बरक़रार थी. १० मिनिट के अन्दर तो मैं और आंटी जी कमरे में थे. आंटी ने मेरा लोडा बहार निकाल दिया था और उसे अपने हाथ से सहला रही थी. मैंने आंटी से कहा लंड चूसने के लिए. आंटी ने धीरे से अपना मुहं खोला और लोडे को अन्दर भर लिया. वाऊ, साली क्या लंड चूस रही थी. ऐसा लंड तो कोई लड़की भी नहीं चूस सकती थी. आंटी की हवस को देख के मैं उसे चोदने की इच्छा दबा नहीं सका. आंटी की टाँगे खोल के मैंने अपना लोडा चूत पर रख दिया. एक ही झटके में पूरा लोडा इस गुजराती आंटी की चूत में था. आंटी ने ऐसे मजे दिए जैसे मुझे कभी नहीं मिले थे. इस गुजराती चूत को मैंने अब तक कई बार चोदा हुआ हैं. बुढ़िया की चूत में अभी भी जान बाकी हैं!

Related Posts