आओ परी रानी गांड मराओ तुम्हारी | परी की चुदाई

एक बार की बात है एक पति और पत्नी थे।  उनकी नई नई शादी हुई थी। 

अब सुहाग रात का टाइम आया तो पति ने अपनी पत्नी की चुदाई नही की। चलो कोई नही पत्नी अपनी चूत मैं ऊँगली कर के सो गयी। 
अगले दिन भी यही हाल।  ऐसा चलते चलते 1 महीने से ऊपर हो गया।  अब पत्नी बेचारी लंड लेने को परेशान। 
एक दिन पत्नी की रात को 2 बजे आँख खुल गयी तो उस ने देखा की उस का पती कही जा रहा है। 
पत्नी ने उस का पीछा किया तो उसने देखा अब सुनो 
पति एक पेड़ के नीचे जा कर बोलता है –
“”आओ परी रानी जांघ पर बेठो हमारी “”
“”खाओ पान सुपारी और गांड मराओ तुम्हारी”” 
तो ऐसा कई दिनों तक चलता रहा पति रोज़ परी  की गांड मारता और उस की पत्नी अपनी चूत मैं ऊँगली कर के सो जाती। 
ऐसा कई  दिनों तक चलता रहा और पत्नी की लंड  पाने की  भूख  हद पार कर गयी। एक दिन पत्नी का दिमाक खरब हो गया। 
वो  रात को अपने पति  से पहले पेड़ के नीचे  पहुंच गयी और बोली 
“”आओ परी रानी जांघ पर बेठो हमारी “”
“”खाओ पान सुपारी और गांड मराओ तुम्हारी”” 
तो परी  फिर से आ गयी। . 
http://anterwassna.blogspot.com/
अब उस औरत ने एक गरम  सरिया लिया और परी  की गांड और चूत सब फाड़ दिया। और घर जा के सो गयी। 
फिर रात को पती  वापस पेड़ के निचे जाता है और मंत्र बोलता है – 
“”आओ परी रानी जांघ पर बेठो हमारी “”
“”खाओ पान सुपारी और गांड मराओ तुम्हारी”” 
तभी परी  फिर से प्रकट होती है और बोलती है – 
“”आयी  थी  रांड तुम्हारी मार गयी गांड हमारी “”
“” फट  गया चूत और भोसड़ा अब बहन चुदाओ तुम्हारी “”
http://anterwassna.blogspot.com/
pri ke chudai in antervasna
.  परी  की चुदाई 
(Visited 82 times, 1 visits today)