मौसी की लड़की को लण्ड चूसा के चोदा 2015 part – 1

हैलो
यह लगभग 1 साल पहले की बात है, जब मैं अपनी मौसी के घर december के समय गया था।
मेरी मौसी की लड़की के साथ मेरा 3 साल पहले कुछ हद तक चुम्बन करना और मम्मे दबाना हुआ था और मैं उस बात को लगभग भूल चुका था।
उनकी बेटी बहुत सुन्दर दिखती है और मुझसे ‘भैया.. भैया’ करती रहती है। वो मुझे बहुत पसंद भी करती थी, जो मुझे बाद में पता चला।
पहले वो उतनी सुन्दर नहीं थी इसलिए मेरा ध्यान कभी उसकी तरफ नहीं गया था, चूँकि वो इंजीनियरिंग कर रही है, वो भी कंप्यूटर साइन्स में तो वो मुझसे computer के बारे में पूछती रहती थी क्योंकि मैं एक सॉफ्टवेयर डेवलपर हूँ।

जिस रात की यह बात है, उस शाम को हम लोग घूमने गए थे, हम लोगों ने बहुत मस्ती भी की।
उसके बाद जब रात को हम लोगों ने खाना खा लिया तो मैं उसके कमरे में गया।
वहाँ उसका छोटा भाई बैठा था, मैं उससे बात करने लगा।
थोड़ी देर बाद उसका छोटा भाई अपने कमरे में चला गया तो मैंने उससे कहा- मैं कंप्यूटर पर थोड़ी देर काम करके चला जाऊँगा।

तो उसने कहा- आप यहाँ कंप्यूटर पर बैठने आए हो या मुझसे बात करने आए हो?
मैंने कहा- मैं तो कंप्यूटर पर काम करने आया हूँ।
मगर शायद मेरी मौसी की लड़की को मेरे साथ कुछ करना था इसलिए वो मुझे अपने पास बुला रही थी।
फिर मैं उसके पास जाकर लेट गया, फिर मैंने मौसी की लड़की को चुम्बन किया और उसके गले में भी चुम्बन किया।
मैंने उससे कहा- तू क्या चाहती है.. तेरा तो ब्वॉयफ्रेण्ड भी है ना?
तो उसने मुझसे कहा- भैया मैं आप के साथ थोड़ा बहुत ‘वो’ करना चाहती हूँ।
तो मैंने कहा- यह तो ग़लत है, पहले जो हुआ वो तो अंजाने में हुआ था मगर अब जो तो चाहती हो, वो तो ग़लत है ना…
तो उसने कहा- भैया मैं ये आखरी बार चाहती हूँ।
तो मैं उसको चुम्बन करने लगा और उसके सलवार के अन्दर हाथ डालने लगा।
मगर उसका सलवार कसी थी, तो मैंने उससे कहा- कि तू ढीली वाली सलवार नहीं पहन सकती थी क्या?
तो उसने कहा- मेरे पास नहीं है ढीली वाली कोई सलवार..
फिर वो मेरा शर्ट ऊपर करने लगी और कहा- आप अपना शर्ट उतार दो।
तो मैंने अपना शर्ट उतार दिया।
फिर मैं उसको और चूमने लगा मगर उसके मम्मों तक मेरा हाथ नहीं पहुँच पा रहा था तो मैंने उसको कहा- तू भी अपना कुर्ता उतार दे।
उसने मुझे मना कर दिया और कहा- मैं ज़्यादा कुछ नहीं करना चाहती हूँ।
फिर थोड़ी देर बाद ना जाने उसे क्या हुआ कि उसने अपना कुर्ता उतार दिया।
अब वो मेरे सामने सिर्फ़ समीज़ और ब्रा में थी। फिर मैं उसके मम्मों को दबाने लगा और फिर ब्रा को नीचे सरका कर उसके मम्मों को चूसने लगा।
फिर धीरे से मैंने उसके ब्रा का हुक भी खुलने की कोशिश की, मगर सिर्फ़ एक ही हुक खुल पाया।
फिर मैंने उसको कहा- अपनी ब्रा को भी खोल दे।
तो उसने अपने ब्रा और समीज़ को नीचे सरका दिया और उसकी ब्रा और समीज़ उसके पेट तक सरक गए। अब मुझे उसके मम्मों के दर्शन हो गए… क्या मस्त मम्मे थे।
मैं तो जैसे देख कर जैसे पागल ही हो गया। अब मैं उसके मम्मों को चूसने लगा और वो भी धीरे-धीरे मज़ा लेने लगी।
उसके बाद मैं उसके नीचे चूत को छूने लगा और उसकी गाण्ड को दबाने लगा। मगर उसने मुझे रोक दिया और कहा- ये मेरे पति की अमानत है और उस पर आप का कोई हक नहीं है।
तो मैंने कहा- ठीक है अगर तुम नहीं चाहती हो तो मैंने वहाँ कुछ नहीं करूँगा।
फिर धीरे-धीरे हम दोनों एक-दूसरे के ऊपर होने लगे, कभी वो मेरे ऊपर और कभी मैं उसके ऊपर होता था।
वो जब भी मेरे ऊपर होती तो मैं उसकी गाण्ड को ज़ोर से दबा देता। पहले तो उसने मना किया फिर वो मुझे अपनी गाण्ड दबाने देने लगी। फिर मैं उसके पूरे जिस्म के साथ खेलने लगा और मस्ती करने लगा।
मेरे साथ वो भी मस्ती करने लगी, फिर उत्तेजित होने के साथ उसने मुझ से कहा- मैं आपसे बहुत प्यार करती हूँ मगर आप मुझको छोड़ कर क्यों चले गए थे… आपने कभी वापस मेरे पास आने की कोशिश भी नहीं की?
तो मैंने कहा- तू मेरी बहन लगती है और मैं तुमसे वो वाला प्यार नहीं करता हूँ, यह सब हमारे बीच मे जो कुछ हो रहा है वो इसलिए हो रहा है क्योंकि यह तू चाहती थी, मैं यहाँ आया तो मैं ऐसा कुछ सोच कर नहीं आया था।
यह सुन कर वो थोड़ा उदास हो गई तो मैंने कहा- तुमको अभी जो करना है कर ले, मैं दुबारा यहाँ नहीं आऊँगा।
फिर मैंने उससे पूछा- तेरा तो ब्वॉय-फ्रेण्ड है ना?
तो उसने मुझसे कहा- हाँ है… और मैं उससे बहुत प्यार करती हूँ।
मैंने कहा- तो फिर ये सब कुछ क्या है?
उसने कहा- मैं आप को देख कर कंट्रोल नहीं कर पाई.. इसलिए..
फिर मैंने उसको चुम्बन किया तो वो खुश हो गई और मुझ से लिपट गई और कहा- मैं और ज़्यादा खुद को रोक नहीं सकती हूँ।
तो मैंने कहा- ठीक है इतना ही बहुत है।

मौसी की लड़की को लण्ड चूसा के चोदा 2015 part – 2

teg – मौसी की लड़की को लण्ड चूसा के चोदा

(Visited 1 times, 1 visits today)