रीता की चूत बियर के साथ

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम गौतम है और में जयपुर का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र 23 साल है और मेरी हाईट 5 फुट 11 इंच है. में दिखने में हैंडसम हूँ और मेरा लंड का साईज 8 इंच लम्बा है. दोस्तों आधी रात को मेरे पास एक लेडी का मैल आया, उसने लिखा कि उसका नाम रीता है और वो नॉएडा से है, उसकी उम्र 26 साल थी और वो एक विधवा थी.

उसके पति उससे उम्र में बहुत बड़े थे और उसकी शादी उनसे पैसो के लिए कर दी गई थी, उनकी शादी के बाद उनके पति का स्वर्गवास हो गया था. फिर मैंने भी उनसे चैट की और उनकी प्रोब्लम शेयर करने को कहा. फिर उन्होंने मुझे रिप्लाई किया कि उन्हें अच्छा लगा.

फिर उन्होंने कहा कि में तुम्हें पैसे देने के लिए भी तैयार हूँ, तो मैंने भी रिप्लाई कर दिया ओके में आपकी मदद कर दूंगा. फिर उसने पूछा कि आप कब आ सकते हो? तो मैंने कहा कि जब भी वो फ्री हो, तब मुझे बता दे. फिर उसने थोड़ी देर के बाद मैल किया कि कल ही आ जाओ. अब में उनकी सेक्स की भूख को समझ गया था और फिर मैंने उनसे ओके कहा. फिर उन्होंने अपना नंबर मुझे मैल कर दिया और कहा कि कल कॉल करना.

फिर में अगले दिन नॉएडा के लिए निकल गया और शाम को करीब 4 बजे पहुँच गया. फिर मैंने रीता को कॉल लगाया तो उन्होंने अपना एड्रेस बताया और कहाँ कि टेक्सी पकड़कर आ जाओ. अब उन्होंने मुझे अपना हाउस नंबर बता दिया था तो मुझे उनका घर ढूँढने में ज्यादा दिक्कत नहीं हुई.

फिर मैंने उनके घर पहुँचकर डोर बेल बजाई तो घर में से एक औरत निकली. फिर मैंने कहा कि मुझे मिस रीता से मिलना है, तो उसने कहा कि मालकिन अंदर है आप बैठिए, में उन्हें बताकर आती हूँ. वो औरत उनकी नौकरानी थी, जो सुबह शाम उनके घर का काम करने के लिए आती थी. फिर थोड़ी देर तक बैठने के बाद रीता वहाँ पर आई. रीता ने लाल रंग की साड़ी पहन रखी थी और बिना बांह का ब्लाउज पहना था. रीता के बूब्स इतने बड़े थे कि वो उसके ब्लाउज से बाहर आने को तरस रहे थे और उनके निपल्स साफ-साफ़ दिख रहे थे.

फिर रीता मेरे पास आकर बैठी और पूछने लगी कि आपको आने में कोई दिक्कत तो नहीं हुई, तो मैंने कहा कि नहीं. फिर मैंने कहा कि आप बहुत ब्यूटिफुल लग रही हो, तो उसने मेरे होंठो पर अपनी उंगली रख दी और कहा कि यह बातें बाद में और मेरे कान के पास आई और बोली कि थैंक यू हैंडसम.

अब में आपको रीता का फिगर बता देता हूँ. उसका कलर बिल्कुल गोरा और साफ था, उसकी आँखे बड़ी-बड़ी थी और उसके 36 इंच के बूब्स बिल्कुल राउंड और टाईट थे. उसकी कमर 32 इंच की बलखाती हुई और उसकी गांड का साईज़ 36 इंच होगा. फिर रीता ने कहा कि चलो अंदर चलते है, फिर उसने अपनी नौकरानी को नाश्ता लाने को कहा.

फिर थोड़ी देर के बाद हमने नाश्ता किया और उसने कहा कि आओ में आपको घुमा लाती हूँ. फिर मैंने कहा कि हाँ क्यों नहीं? फिर रीता ने अपनी गाड़ी निकाली और में उसके साथ बैठ गया. अब हम काफ़ी घूम आए थे और फिर रात को 9 बजे घर आते वक्त उन्होंने एक बियर की दुकान पर गाड़ी रोकी और मुझसे कहा कि 4 बियर ले आओ और मुझे पैसे दे दिए तो में बियर ले आया और फिर हम दोनों घर के लिए चल दिए. फिर हम घर पहुँचे तो हमने देखा कि घर बंद था. फिर रीता ने अपनी चाबी से दरवाज़ा खोला और फिर हम घर के अंदर चले गये.

फिर रीता सीधी अपने बेडरूम में गई और में भी उसके पीछे-पीछे चला गया. फिर कमरे में पहुँचकर रीता अपनी साड़ी खोलने लगी और उसने अपना ब्लाउज और अपना पेटीकोट भी उतार दिया. अब वो सिर्फ़ एक लाल ब्रा और एक लाल पेंटी में थी. फिर उसने मुझसे कहा कि तुम भी अपने कपड़े उतार दो और पूरे नंगे हो जाओ. फिर मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और अब मेरे बदन पर सिर्फ़ मेरे बॉक्सर्स थे. फिर रीता ने बियर की बोतल खोली और मुझसे पूछा कि तुम पीते हो ना, तो मैंने कहा कि हाँ, लेकिन ज्यादा नहीं पीता हूँ.

फिर रीता ने चियर्स कहा और एक बोतल वो और एक बोतल में पीने लगा. अब जल्द ही उसने अपनी बियर ख़त्म कर ली और फिर वो मेरे बिल्कुल पास आ गई. फिर वो कहने लगी कि यह क्यों पहन रखा है? इसे भी खोलो ना. फिर उसने एक झपट्टा मारकर मेरा बॉक्सर्स भी खोल दिया और मेरा बड़ा लंड अपने हाथ में लेकर दबाने लगी.

अब उसकी भरपूर जवानी देखकर मेरा लंड पूरा 8 इंच खड़ा हो चुका था. फिर मैंने भी रीता के बूब्स पर जो ब्रा चिपकी हुई थी, वो निकालकर फेंक दी, हाए-हाए क्या मस्त चूचे थे? उसके गोल-गोल चूचे 36 साईज के थे. अब में उनको अपने मुँह में लेकर चूसे जा रहा था. अब वो आअहह आअहह हाईईई की आवाज़ भरने लगी थी. अब वो मेरे लंड को ज़ोर-जोर से दबाने लगी थी. फिर मैंने धीरे-धीरे उसको मसलते हुए उसकी पेंटी को भी उतार दिया और उसकी चिकनी चूत में अपनी उंगली डालने लगा.

अब रीता भी अपने पूरे जोश में आ गई थी और अब वो मेरे लंड को ज़ोर-ज़ोर से मसल रही थी. फिर उसने मेरे लंड पर थोड़ी सी बियर डाल दी और मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. अब उसे मेरा इतना बड़ा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने में बहुत मज़ा आ रहा था. फिर वो 5 मिनट तक ऐसे ही मेरा लंड लॉलीपोप की तरह चूसती रही. फिर उसने कहा कि मेरी चूत चाटो तो फिर मैंने रीता को एकदम से सीधा लेटा दिया और उसकी चूत में अपनी जीभ डाल दी और चाटने लगा.

अब वो मज़े में आह्ह आहिया उफफफ्फ़ आहाऊआ अहहम्म एम्म की आवाज़े निकाल रही थी. अब में उसकी चूत को चप्पा-चप्पा अपनी जीभ से चाट रहा था. अब वो ज़ोर-ज़ोर से आहह आहह कर रही थी और अपनी गांड को हवा में ज़ोर-ज़ोर से उठाकर अपनी चूत को चटवा रही थी. अब उसने मुझको उसकी चूत के बीच में जोरो से दबा रखा था. फिर वो अकड़ गई और झड़ गई और बोली कि आहह अब बस भी करो और मुझे चोदो.

फिर मैंने झट से कंडोम पहना और उसकी चूत पर अपना लंड रख दिया और उसकी टाँगो को अपने कंधे पर रख लिया और फिर उसकी चूत के छेद पर निशाना लगाकर अपने लंड को उसकी चूत में सट से घुसा दिया. फिर उसने थोड़ा सा आईई माँ किया और फिर मेरा पूरा लंड उसकी चूत में समा गया. अब मैंने धीरे-धीरे धक्के देने चालू कर दिए थे और अब रीता को मज़ा आने था और वो भी नीचे से अपनी कमर हिलाने लगी थी.

फिर कुछ देर तक चुदने के बाद रीता ने कहा कि तुम नीचे आओ में ऊपर आती हूँ. फिर रीता मेरे ऊपर आ गई और मेरे लंड को अपनी चूत में डलवा लिया और ज़ोर-ज़ोर से मेरे लंड के ऊपर कूदने लगी. अब उसे बहुत मज़ा आ रहा था, अब वो उफफफफ्फ़ आहि आईईई आहह फुक्ककक मी हाडरर्र आहह बेबी करके आवाज़े भर रही थी. अब वो अपनी चूत को मेरे बड़े लंड पर मानो पटक रही थी. अब मैंने नीचे से अपने लंड की रफ़्तार तेज कर रखी थी.

फिर रीता ऐसे करते-करते झड़ गई और मेरे ऊपर गिर गई. फिर मैंने कहा कि बस? तो रीता ने कहा कि मुझे पहली बार में खुद की चूत का पानी गिराने में मज़ा आता है और दूसरे राउंड में हम और भी तरीके से चुदाई करेंगे. फिर मैंने कहा कि ठीक है और अब में रीता के बूब्स को लगातार दबा रहा था और चूम रहा था और उसके साथ उसकी चूचीयों को चूस भी रहा था, ताकि वो जल्दी से जोश में आ जाए.

फिर मैंने उसकी चूत पर फिर से अपनी जीभ को काम पर लगा दिया और उसकी चूत से निकली हुई पानी की बूंदों को उसकी चूत से चूसने लगा. अब इतने में रीता जोश में आ गई थी और अब में उसकी चूत के दाने को बार-बार अपने होंठो में दबाकर काट लेता था, जिससे वो आहह आईई करने लगती थी. अब वो पूरे जोश में आ गई थी और आहह आययए उफफफ्फ़ करने लगी थी. फिर रीता ने कहा कि बेबी मुझे तुम्हारा लंड चूसना है, आओ में तुम्हारा लंड और तुम मेरी चूत को चूसो. फिर हम दोनों 69 पोजिशन में हो गये और अब वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी थी और में उसकी चूत को जोर-जोर से चूस रहा था.

फिर जैसे ही में उसकी चूत में अपनी जीभ को अंदर करता तो वो मेरे लंड को ज़ोर-ज़ोर से काट लेती, ऐसा लगता है कि जैसे खा जाएगी. फिर थोड़ी देर के बाद रीता ने कहा कि बस करो अब आओ चोदो मुझे. फिर मैंने देरी ना करते हुए उससे पूछा कि तो अब कैसे चुदवाना चाहोगी? अब वो मेरी तरफ उसकी बड़ी गांड करके बिस्तर पर अपनी गांड को हिलाने लगी थी.

अब में समझ गया था कि वो डॉगी स्टाइल में चुदवाना चाहती है. फिर मैंने एक और कंडोम पहना और पीछे से मेरा बड़ा लंड उसकी चूत में डाल दिया और धक्का लगाने लगा. अब वो आहहह आहहईईईई उफ़फ्फ़ करने लगी थी और अपनी चूत को मेरे लंड पर ज़ोर-ज़ोर से मारने लगी थी. अब वो आहहह आईईईई की सिसकियाँ भर रही थी और में पूरे जोश में उसको चोद रहा था.

अब में भी जोर जोर से धक्के दिए जा रहा था. फिर रीता ने कहा कि तुम थोड़ी देर रुक जाओ, में खुद चुदती हूँ. अब रीता ज़ोर ज़ोर से मेरे लंड पर अपनी गांड को पटकने लगी थी और में इस तरह सीधा खड़ा था और उसकी चूत मेरे लंड को चोद रही थी, अब में सिर्फ़ उसकी कमर को पकड़े हुए था. फिर उसने कहा कि चलो टेबल पर चलते है. अब रीता ने अपनी एक टांग को टेबल पर टिका दिया था और एक टांग नीचे थी. फिर मैंने उसके पीछे खड़े होकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और उसे चोदने लगा.

अब वो बड़े अच्छे से चुदवा रही थी और मज़े ले रही थी और आहह आहह की आहें भर रही थी. अब में पीछे से उसकी चूत को अपने लंड से दनादन पेल रहा था. अब में कभी-कभी उसकी चिकनी चूत को मसल भी लेता था, जिससे वो और मज़े लेकर चुद रही थी. फिर रीता टेबल पर लेट गई और कहने लगी कि तुम नीचे खड़े होकर मुझे चोदो. अब में भी नीचे खड़ा होकर उसे चोदने लगा था और अब वो मज़े में आ गयी थी और आअहह अयाया किये जा रही थी. अब मज़े से उसकी आँखों में से आसूं भी निकल आए थे, लेकिन वो झड़ने का नाम ही नहीं ले रही थी.

फिर मैंने उसे अपनी गोदी में उठाया और बेडरूम में फिर से ले गया. फिर उसने मुझे किस करके कहा कि बस मेरे ऊपर चढ़ जाओ और ज़ोर-जोर से चोदो, अब बस में झड़ना चाहती हूँ, अब में तुम्हारे लंड को और नहीं झेल सकती हूँ. फिर मैंने उसकी टांगे ऊपर कर दी और उसे ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा और पूरे जोश से पेलने लगा. अब उसकी चूत से पच-पच की आवाज़े आ रही थी और वो नीचे से अपनी कमर हिला रही थी और ज़ोर से चोदो मुझे बेबी बोले जा रही थी.

अब ऐसा लग रहा था कि में भी झड़ जाऊंगा तो मैंने भी अपने धक्के तेज़ कर दिए और नीचे से रीता भी ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगी. फिर उसने मुझे एका एक अपनी बाहों में ज़ोर से जकड़ लिया और झड़ने लगी. अब में भी अंतिम कगार पर पहुँच गया था, फिर मैंने भी अपना आखरी धक्का मारा और झड़ गया.

फिर हम दोनों लेट गये और फिर थोड़ी देर के बाद हम दोनों बाथरूम में गये और फ्रेश होकर सो गये. अब मुझे सुबह निकलना था. सुबह मेरी 8 बजे की ट्रेन थी तो में जल्दी उठा और रीता से कहा कि में जाने वाला हूँ, तो रीता ने मुझे पकड़ लिया और कहा कि आओ एक बार और हो जाए. फिर मैंने कहा कि नहीं, मेरी ट्रेन का टाईम हो रहा है. फिर रीता ने कहा कि कोई बात नहीं जल्दी-जल्दी कर लेते है. फिर मैंने उसका गाउन उठाया और जल्दी-जल्दी उसकी चूत मारी और फ्रेश होकर जाने लगा. फिर रीता ने मुझे लिफाफे में पैसे दिए और मुझे किस किया और फिर वो मुझे स्टेशन छोड़कर चली गई.

(Visited 8 times, 1 visits today)