दोस्त ने माँ को चोदकर बदला लिया

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अंकित शर्मा है और ये स्टोरी बिल्कुल सच्ची है. ये स्टोरी मेरी माँ और मेरे फ्रेंड के बारे में है कि कैसे मेरे दोस्त ने मुझसे बदला लेने के लिए मेरी माँ को चोदा? पहले में आपको अपनी माँ के बारे में बताता हूँ.

मेरी माँ की उम्र 42 साल है, लेकिन वो दिखने में बिल्कुल 30 साल की लगती है और जिसकी वजह योगा है, मेरी माँ रोज़ सुबह योगा करती है, माँ के बूब्स 38 और गांड 40 है. अब में आपका ज़्यादा टाईम वेस्ट ना करते हुए सीधे स्टोरी पर आता हूँ.

ये बात तब की है, जब में 12वीं क्लास में पढ़ता था, मेरा एक बेस्ट फ्रेंड था और अब भी है उस्मान. उस्मान की एक गर्लफ्रेंड थी, जो बहुत ही हॉट थी और में अक्सर उस पर लाईन मारता था. उस्मान मुझे कई बार मना कर चुका था, लेकिन फिर भी में नहीं मानता था. ये बात कॉलेज पार्टी की है, हम सब पार्टी में आए थे, उस्मान की गर्लफ्रेंड भी आई थी. अब उस्मान अपनी गर्लफ्रेंड को मुझसे दूर रखने की कोशिश कर रहा था, लेकिन में किसी बहाने से उसे ले गया और जानबूझ कर उसकी ड्रेस पर कोल्ड ड्रिंक गिरा दी.

फिर जब वो अपने कपड़े चेंज करने बाथरूम में गई तो मैंने उसकी कुछ नंगी फोटो खींच ली और उस्मान को ब्लैकमेल करने लगा. अब उस्मान को ये बात बहुत बुरी लगी, लेकिन उसने मुझे महसूस नहीं होने दिया कि वो मुझसे बदला लेने की सोच रहा है. इस घटना के 2 महीने के बाद की बात है और उसे ये मौका मिल भी गया.

ये बात तब की है, जब वो मेरे घर आया तो उसने मुझे उठाया और थोड़ी देर के बाद मेरी माँ भी उठ गई. अब वो मेरे रूम में बैठकर मुझसे बात करता रहा. फिर में उसे अकेला छोड़कर कुछ काम से बाहर आ गया था. अब मेरी माँ भी नहाकर अपने रूम में बैठी थी, माँ ने काले कलर की डीप नेक नाईटी पहन रखी थी. अब उस्मान माँ के रूम में आकर माँ से फ्लर्ट करने लगा, में ये सब बाहर से देख रहा था.

फिर थोड़ी देर के बाद बारिश शुरू हो गई थी, तो माँ उस्मान को पकड़कर बाहर बारिश में ले गई और बारिश में खेलनी लगी. अब माँ के गीले कपड़ो में गांड और बूब्स को देखकर उस्मान का लंड खड़ा हो गया था, वो माँ से मस्ती करने लगा और उनके ऊपर पानी उछालने लगा. अब माँ भी उससे खेल रही थी. तभी माँ की नज़र उस्मान के लंड पर पड़ी, लेकिन वो कुछ नहीं बोली. फिर खेलते वक़्त उस्मान ने मेरी माँ को अपनी तरफ खींच लिया और किस करने लगा. अब माँ पहले तो घबरा गई और उसे दूर करने लगी, लेकिन उस पर तो मुझसे बदला लेने का भूत सवार था. अब वो माँ को किस करता रहा और अब माँ भी उसका साथ देने लगी थी.

फिर उसने मेरी माँ की गांड पर अपना लंड रगड़ना शुरू किया, जिससे माँ बहुत गर्म हो गई थी. फिर उन्होंने उसको अंदर चलने को बोला तो फिर वो मेरी माँ को गोद में उठाकर अंदर ले गया और बेड पर लेटाकर खूब किस करता रहा और उनका नंगा बूब्स चूसता रहा. फिर उसने मेरी माँ की चूत को चाटना शुरू किया. फिर कुछ देर के बाद माँ झड़ गई और उसको चोदने को बोलने लगी, लेकिन वो माँ को तड़पाता रहा.

फिर उसने माँ को लंड चूसने को कहा, लेकिन माँ ने मना कर दिया तो उसने जबरदस्ती अपना लंड मेरी माँ के मुँह में दे दिया. अब उस्मान को भी सेक्स करना था तो उसने माँ को उल्टा किया और माँ की गांड मारने लगा तो माँ मना करने लगी. फिर उस्मान ने उनके मुँह पर थप्पड़ मार दिया और उनकी गांड मारने लगा.

फिर माँ की गांड मारने के बाद उसने माँ की चूत को चोदना शुरू किया. अब वो चोदते वक़्त माँ की गांड पर थप्पड़ मार रहा था, तो माँ दर्द के मारे रोने लगी थी. अब मुझसे देखा नहीं गया और में रूम में घुस गया. उस्मान बॉडी में मुझसे अच्छा था और फिर उसने जैसे ही मुझे देखा तो उसने तुरंत मुझे मारना शुरू कर दिया और मेरे हाथ बाँध दिए. दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है.

अब उसने कहा कि अब बदला लेने का मजा ही कुछ और है और अब वो मेरे सामने ही मेरी माँ को डॉगी स्टाईल में चोदने लगा और जब वो झड़ने वाला था तो उसने अपना पानी माँ के मुँह में भर दिया और उसे पीने को बोलने लगा. अब माँ भी उसकी जबरदस्त चुदाई से खुश हो जाती है. फिर वो मुझे समझाता है कि उसने ऐसा क्यों किया? अब मुझे अपनी ग़लती का एहसास होता है.

उस दिन के बाद उस्मान रोज़ मेरे घर पर आता है और माँ को चोदता है, वो और माँ रोल प्ले भी करते है. अब माँ उसके लिए कई सेक्सी ब्रा, पेंटी और साड़ीयाँ भी लाई है, क्योंकि उसे माँ को साड़ी पहना कर चोदने में बहुत मजा आता है. अब माँ कई तरह की साड़ीयां पहनती है, लेकिन उस्मान को पारदर्शी ज़्यादा पसंद है. अब उस्मान माँ को साड़ी नाभि से 3 इंच नीचे बांधने को कहता है, अब उसने माँ की नाभि भी छिदवा दी है, जिसके कारण माँ और सेक्सी लगती है. उस्मान को माँ हील्स में ज़्यादा पसंद है, क्योंकि इससे उनकी गांड और बाहर निकल आती है.

फिर एक दिन की बात है उस्मान घर पर आया और माँ को शॉपिंग के लिए ले गया, उसने माँ को शादी का जोड़ा दिलवाया और शाम को दुल्हन की तरह सजने को बोला. फिर उसने मुझसे भी माँ का रूम सजाने को बोला, तो मैंने भी खुशी-खुशी माँ का रूम सुहागरात की सेज की तरह सजा दिया. फिर शाम को माँ ने दुल्हन की तरह संगार किया. अब माँ ने लाल कलर की साड़ी पहनी और डीप नेक ब्लाउज पहना, माँ ने साड़ी नाभि से नीचे बांधी थी और माँ ने हील्स भी पहने थे. फिर शाम को उस्मान माँ के साथ सुहागरात मनाने आया तो उसने मुझसे रुकने को बोला और कहा कि वो चाहता है कि में माँ को चुदते देखूं तो में मान गया. फिर माँ ने उस्मान के पैर छुए और उस्मान माँ को उठाकर उनके रूम में ले गया, जो सुहागरात की सेज की तरह सजा था. फिर उसने माँ को वहाँ लेटाकर रातभर माँ की चुदाई की.

(Visited 1 times, 1 visits today)